क्रेडिट स्कोर बेहतर कैसे रखे 5 best tips हिंदी में

क्रेडिट स्कोर बेहतर कैसे रखे 5 best tips हिंदी में

यदि आप चाहते हैं कि बैंक आपको जल्दी और सही रेट पर लोन दे तो आपके  लिए जरूरी है कि आप अपना क्रेडिट स्कोर बेहतर रखे। बैंक आपके क्रेडिट स्कोर  के आधार पर ही तय करता है कि आपको कितना और किस व्याज दर पर लोन देना है।

यदि आपका क्रेडिट स्कोर बेहतर है, तब बैंक आपको बड़ी आसानी से  लोन व क्रेडिट कार्ड दे देता है। क्रेडिट स्कोर की अधिकतम रेटिंग 900 होती है इसलिए आपका स्कोर 900 के जितने करीब होगा, उतना ही बेहतर आपका क्रेडिट रहेगा।

अपना क्रेडिट स्कोर जानने के लिए CIBIL SCORE पर क्लिक करें।

आप अपने क्रेडिट  स्कोर  को बेहतर रखने के लिए इन 5 सुजावो को ध्यान में रखें –

1. अपने क्रेडिट कार्ड व लोन का समय पर पूरा भुगतान करें।

अपने क्रेडिट  स्कोर को बेहतर रखने के लिए यह बहुत ही आवश्यक है कि आप अपने सभी लोनो की किश्ते समय पर भरे । साथ ही अपने क्रेडिट कार्ड के बिल भी समय पर पूरा भरे।

यदि आपका कोई लोन चल रहा है और उसकी किश्त आपके बैंक खाते से ऑटो डेबिट होती है। तो आप यह सुनिश्चित करे कि जिस तारीक को आपके खाते से किश्त कटनी हो उस तारीक से पहले आपके खाते में किश्त कटने के लिए प्रयाप्त धन राशि मौजूद हो।

जिस खाते से आपकी किश्त कटती है,  उससे कुछ दिन पहले ही आप अपने खाते में प्रयाप्त पैसा रखें। मेरा यह सुझाव है कि जितने की आपकी किश्त कटती हो, उससे अधिक पैसे आप  अपने उस खाते में रखे।  ताकि यदि किसी लेनदेन, एटीम फी या अन्य कोई चार्ज यदि बैंक आपके खाते से काट लेता है तो भी आपके खाते में लोन किश्त के लिए प्रयाप्त पैसे रहें।

कई बार ऐसा भी होता है कि महीने की 5 तारीक को आपके खाते से लोन की किश्त कटनी थी, बैंक की छुट्टी या अन्य किसी कारण से बैंक ने 5 तारीक को आपकी किश्त नहीं काटी और फिर आपने अगले दिन उसमे कुछ रुपये खर्च कर दिये या फिर बैंक ने आपकी सालाना एटीम फी काट ली और फिर दोबारा से 7 तारीक को आपकी लोन की किश्त काटने के लिए ऑटो डेबिट लगा दिया। अब 7 तारीक को आपके खाते में लोन की किश्त के कटने के लिए प्रयाप्त रुपये नहीं रहे। ऐसे में आपकी लोन की किश्त चूक जायेगी।

लोन की किश्त चूकने से न सिर्फ बैंक आपको पेनाल्टी लगाकर पैसे बसूलेगा बल्कि आपकी लोन किस्त चूकने से आपका क्रेडिट भी कम होगा।

लोन के अलावा यदि आप क्रेडिट कार्ड का उपयोग करते हैं, तो उसकी अंतिम तारीक से पहले अपने क्रेडिट कार्ड के बिल का पूरा भुगतान करें।

यदि आप अपने क्रेडिट कार्ड का सिर्फ न्यूनतम बिल भुगतान करते हैं तो इससे यह संदेश जाता है कि आप अपने क्रेडिट पर जीवन यापन कर रहे हैं, इससे आपके क्रेडिट पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

एक अच्छा क्रेडिट स्कोर बनाये रखने के लिए अपने लोन क्रेडिट कार्ड का समय पर पूरा भुगतान करें।

2. अच्छा क्रेडिट स्कोर बनाये रखने के लिए आप अपने क्रेडिट का केवल 30 से 40 % तक ही उपयोग करें।

यदि आप अपने क्रेडिट का अधिक इस्तमाल करते हैं तो इससे यह समझा जाता है कि आप अपने क्रेडिट पर अपना खर्चा चला रहे हैं। जिसका प्रभाव आपके क्रेडिट स्कोर पर नकारात्मक पड़ता है।

आप कोशिश यह करें कि अपने क्रेडिट का केवल 30 से 40 % तक ही उपयोग करें। अपने क्रेडिट का उपयोग करने के बाद, आप समय से पहले उसे चुकता कर दें।

यदि आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट कम हैं, जिस कारण आपको उसका पूरा उपयोग करना पड़ता है। तो नीचे लिंक पर क्लिक कर आप जाने कि अपने क्रेडिट कार्ड की लिमिट आप कैसे बड़ा सकते हैं।

Credit card ki limit कैसे बढ़ायें, जाने 7 जबरदस्त तरीके

3. बिना जरूरत के लोन आदि के लिए आवेदन न करें

जब भी आप लोन या क्रेडिट  कार्ड के लिए आवेदन करते हैं, तब आपके क्रेडिट की जांच होती है और आपका क्रेडिट स्कोर कुछ पोइंट कम होता है। इसलिए बार बार आवेदन करने से आपका क्रेडिट स्कोर कम होता है।

 जब भी आप लोन या क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करते  हैं, तो आप आवेदन करने से पहले अन्य जरूरतो को जांच ले कि आप बैंक की पोलिसी के आधार पर इस लोन या क्रेडिट कार्ड के  लिए पात्र हैं  या नहीं ।

यदि आप बैंक की इनकम पोलिसी या अन्य किसी पोलिसी के आधार पर किसी लोन या क्रेडिट कार्ड के लिए पात्र नहीं है और  आवेदन करते हैं तो इसमें यदि आपके क्रेडिट की जांच होती है तो आपके क्रेडिट पोइंट कम होगे । चूँकि आप पोलिसी के अनुसार पात्र नहीं है इसलिए आपका आवेदन भी निरस्त कर दिया जायेगा।

इसलिए लोन क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करने से पहले पोलिसी की जांच अवश्य कर लें।

कई बार  किसी लोन एजेंट या DSA के हाथ में हम अपनी फाइल लोन  या क्रेडिट कार्ड के लिए दे देते हैं और ये लोग कई बैंको व फाइनेंस कंपनियो में एक साथ लोन के लिए फाइल लगा देते हैं। एक साथ अनेक जगह आवेदन लगाने से अनेको क्रेडिट  के लिए जांच होती है और इससे आपका क्रेडिट स्कोर कम होता है।

एक  साथ या कम समय के अंतराल में अनेको लोन या क्रेडिट कार्ड के आवेदन करने से बचे।

4. जरूरत के अनुसार secure व  unsecure लोन लें

यदि आप केवल अधिक से अधिक unsecure लोन चलाते हैं, तो इससे भी आपका क्रेडिट स्कोर प्रभावित होता है। आप अपनी जरूरत के हिसाब से secure व  unsecure लोन लें। यदि आपको secure लोन की आवश्यकता है तो अवश्य लें इसमें आपको unsecure की तुलना में व्याज दर भी कम देना पड़ता ह और लोन चुकाने के लिए समय भी अधिक मिल जाता है।

5. दोस्ती या रिश्तेदारी में लोन  या क्रेडिट दिलाने से बचे

यदि आप अपने किसी दोस्त या रिश्तेदार के लोन गारेंटर बने है और वह लोन समय पर नहीं भरता है या डिफोल्ट करता है, तो इससे आपके भी cibil score में गिरावट होती है।

आपके  क्रेडिट कार्ड पर कोई बेहतर ऑफर चल रहा है और आपके किसी दोस्त या रिश्तेदार ने कोई मोबाइल या लेपटोप आपके क्रेडिट कार्ड से खरीद लिया और अब हर महीने उसकी किश्त का पैसा वह देता रहेगा।

यदि आपका वह दोस्त समय पर पैसा नहीं दे पाया, तो ऐसे में आपको अपने  क्रेडिट कार्ड का भुगतान करना पड़गा और आप नहीं कर पाये तो आपका cibil score कम हो जायेगा।

अपने क्रेडिट कार्ड से अपने दोस्तो, रिश्तेदारो को खरीददारी करायें।

अपने खाते से लोन करा कर किसी दोस्त या रिश्तेदार को दे देना और वह किश्त भरता रहेगा। इससे भी बचे अन्यथा आपको बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है, साथ ही आपका क्रेडिट स्कोर भी खराब हो सकता है। 

आपको यह पोस्ट कैसी लगी, हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बतायें साथ ही अपने दोस्तो के साथ इसे अवश्य शेयर करे ताकि वे अपना क्रेडिट स्कोर अच्छा बनाये रखें।

फाइनेंस व निवेश से संबंधित हमारी नई पोस्ट की अपडेट के लिए हमारे ब्लॉग को subscribe अवश्य करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.