कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें

कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें 5 बेस्ट सेविंग टिप्स हिंदी में

यदि आप जानना चाहते हैं कि कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें, तो इस पोस्ट को अंत तक अवश्य पढ़े।

मुश्किल समय के लिए पैसे बचाके रखना बुद्धिमानी का कार्य है। वित्तिय सलाहकारो कि माने  तो एक व्यक्ति को अपने अपातकालीन  के लिए इतना पैसा बचा के रखना चाहिए कि यदि  किसी कारण बस उसकी  आय का रास्ता बंद हो जाये, उसके पास पैसे आना बंद हो जायें फिर भी वह 6 से 8 महीने तक अपने परिवार का भरण पोषण करता रहे।

 हर व्यक्ति को अपने अपातकालीन फंड में इतना पैसा जमा करके रखना चाहिए कि वह बिना कोई पैसा कमाये, कम से कम 6 महीने के लिए अपने परिवार का वैसे ही खर्चा चलाता रहे, जैसे वह सामान्य समय में चलाता है।

आजकल नौजवान व लगभग हर उम्र के व्यक्ति के लिए पैसे बचाना बड़ा कठिन काम हो गया है। आपके लिए भी पैसा बचाना कठिन काम लगता हो, किंतु आपको जरूरत के समय के लिए पैसा बचाना आवश्यक भी है।

अब आप कहोगे कि पैसे तो हर कोई बचाना चाहता है लेकिन खर्च अधिक होने और सैलरी कम होने के कारण हर कोई पैसा बचा नहीं पाता है।

इस पोस्ट में आपको कुछ सुझाव दिये जा रहें जिन पर अमल कर आप कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें, के बारे में जान सकते है।

कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें, सुझाव नंवर 1 – फालतू खर्च से बचे

पैसा बचाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि आप इसे उन चीजो में खर्च करने से बचें जिनकी आपको जरूरत ही नहीं है। यदि आपको सैलरी आते ही दोस्तो के साथ बाहर घूमने जाना, पार्टी करना आदि की आदत है, तो इसमे बदलाव करें।

अपने दोस्तो से कहें कि आप पार्टी आदि में पैसा खर्चा कर सकते हैं किंतु पूरा पैसा नहीं, अपनी सैलरी में से हर महीने कुछ पैसे सेव करने के बाद ही आप पैसा खर्च कर सकते है।

आप अपने उन जरूरी कामो की सूची बनाकर अपने बेड के आस पास चिपका लें, जिनके लिए आपको पैसा सेव करना है।

ऐसा करने से आपको याद रहेगा कि आपको पैसा सेव करना क्यों जरूरी है और जब आप पैसा सेव करने के लिए सीरियस रहेगें, तो आप अपने आप को फालतू खर्च करने से रोक पायेगें।

कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें, सुझाव नंवर 2 –  मोल आदि मे घूमने जाते वक्त पैसे न ले जाये

यदि आपमें यह आदत है कि आप विकेंड पर मोल या कहीं मेला आदि घूमने जाते हैं और वहाँ से कुछ न कुछ खरीद कर ले आते हैं, तो आप ऐसी जगह जाते समय अपने पास अधिक पैसे लेकर न जायें।

उदाहरण के लिए यदि आपमें कोई ऐसी आदत है कि आप किसी चाय की घूमटी पर जाकर बैठ जाते हैं और फिर दो चार सिगरेट व चाय आदि में सौ पचास रुपये एक साथ खर्च कर देते है।

तब आप जिस समय चाय की घूमटी पर जाते हो, उस समय कोई दूसरा काम करने लगो या कहीं दूसरी जगह जाने लगो। इससे आप अपने दिन का सौ पचास रुपये भी बचा सकते हैं और साथ में सिगरेट भी आपकी कम हो सकती है।

कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें, सुझाव नंवर 3 – महीने का बजट बनायें

आप महीने के शुरूआत में  ही अपने पूरे महीने का बजट बना ले कि किस के लिए आपको कितना पैसा इस महीने में खर्च करना पड़ेगा।

आपके बजट के अनुसार जितना भी रुपये आपको महीने का खर्च करना पड़ेगा, उसे अलग कर लें और फिर बाकि का पैसा सेविंग के लिए जमा कर दें।

कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें, सुझाव नंवर 4 – ऑनलाइन सोपिंग के समय ध्यान दें

यदि आपकी यह आदत है कि आप ऑनलाइन कोई अच्छा ऑफर देखते ही सोपिंग करने लग जाते हैं, तो आप अपने एटीएम व क्रेडिट कार्ड की ऑनलाइन सोपिंग की लिमिट को कम करके रखें। या फिर आप जिस भी बैंक लेन देन के माध्यम से ऑनलाइन सोपिंग करते हैं उसे बंद करके रखें।

आपको जिस चीज की जरूरत नहीं है उस पर कुछ भी ऑफर चलते रहें, उसे खरीदने से आपका कोई लाभ नहीं है।

कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें, सुझाव नंवर 5 – सैलरी आते ही निवेश करें

यदि आप कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें के लिए सबसे बेहतरीन सुझाव जानना चाहते हैं, तो वह है कि आप अपनी सैलरी आते ही पैसो का निवेश करें।

आप अपने महीने के जरूरी खर्चो का हिसाब करके, अपनी आय का एक निर्धारित भाग अपनी सैलरी आते ही हर महीने निवेश करें।

आप हर महीने अपना कुछ पैसा SIP mutual fund में निवेश करें, आप कम से कम 500 रुपये मासिक किस्त के साथ अपना SIP निवेश शुरू कर सकते हैं।

लिंक पर क्लिक करें और hdfc mutual fund के बारे में जानकारी लें

यदि आपके पास अपातकालीन के लिए कुछ भी सेविंग नहीं है तो आप उस SIP में निवेश करें, जहाँ  आपका पैसा हर महीने निवेश होता रहे और जरूरत पड़ने पर आप कभी भी इस पैसे को निकाल सके।

सफल निवेशक किस तरह अपना पैसा निवेश करने के लिए  इस लिंक को फॉलो करें।

कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें, सुझाव नंवर 6 – अपने पास जरूरत के लिए ही पैसा रखें

यदि आपका हाथ पैसो के मामले में अधिक खुला हो, आप चाह कर भी अपने फालतू के खर्चो कर काबू नहीं कर पाते हैं। तो इस स्थिति में आप अपने किसी खास की मद्द ले सकते है।

सैलरी आने पर आप अपने माता पिता, पत्नि आदि को सेव करने के लिए पैसा दे दें और अपने पास उतने ही पैसे रखे जितने की आपको वाकई जरूरत हो।

यदि आपके पास फिजूल खर्ची के लिए पैसा होगा ही नहीं तो आप खर्च कर ही नहीं सकते हैं।

ऐसा करते समय आप इस बात का  ध्यान रखें कि जिनको आप पैसा रखने के लिए दे रहे हो कहीं वे ही इसे खर्च न कर दें।

यदि आपको हमारी यह पोस्ट कम सैलरी में पैसा कैसे सेव करें पसंद आई हो, तो इन्हे  अपने उन दोस्तो के साथ अवश्य शेयर करें जिन्हे पैसे सेव करने की जरूरत है।

हमारे ब्लॉग पर प्रकाशित निवेश व फाइनेंस से संबंधित नई पोस्ट की जानकारी के लिए इसे subscribe अवश्य करें। 

Leave a Comment

Your email address will not be published.