loan agent kaise bane loan dsa kaise le

Loan Agent कैसे बनें  Loan DSA बनकर महीने का 1 लाख से अधिक कैसे कमाये

यदि आप जानना चाहते हैं कि Loan Agent कैसे बनें ? Loan Agent कौन होते हैं ? Loan Agent का क्या काम होता है ? लोन का DSA कैसे लें ? एक Loan Agent महीने का एक लाख से अधिक कैसे कमाये, तो इस पोस्ट को अंत तक अवश्य पढ़े।

यदि आप नये काम की तलाश में है, आपके पास कोई बहुत बड़ी डिग्री नहीं है, या फिर डिग्री होने के बाद भी आपको अच्छी जॉब नहीं मिल रही है। आप सेल्स में अच्छे हैं, आपको फाइनेंस की भी जानकारी है, तब आप एक Loan Agent बनकर लोन सैल कर कमिशन के रूप में अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

Loan agent कौन होता है ? Loan agent का क्या काम होता है ?

Table of Contents

Loan agent हम उन लोगो को कहते है जो बैंक व फाइनेस कंपनियो से लोन कराते है। Loan agent बैंक या इन फाइनेंस कंपनियो के कर्मचारी नहीं होते हैं।

Loan agent भी इंश्योरेंस कंपनियों की तरह होते है, बस अंतर इतना है कि इंश्योरेंस एजेट इंश्योरेंस सैल करते हैं और Loan agent लोन सैल करते हैं।

यदि हम एलआईसी व अन्य किसी भी इंश्योरेंस कंपनी की बात करें तो ये इंश्योरेंस कंपनियां भी अधिकतर लोगो को अपनी कंपनी में इंश्योरेंस एजेंट बनाती है और उनके काम के अनुसार उन्हें कमिशन देती है।

Loan के साथ credit card agent बनकर महीने का 20 से 30 हजार अतिरिक्त कैसे कमायें

Loan agent को DSA DSE व DST भी कहते हैं। कई जगह लोग इन्हें loan broker, loan officer लोन दिलाने वाले दलाल भी कहते है। लेकिन बैंकिंग भाषा में इन्हे Loan agent व DSA ही कहते है।

 इन्हें बैंक महीने की कोई भी फिक्सड मासिक सैलरी नहीं देती है।

ये Loan agent कमिशन के रूप में बैंक व इन फाइनेंस कंपनियों से जुड़कर लोगो को लोन दिलाने का काम करते है।

  ये जितना काम करते है उसके अनुसार इनका जो कमिशन बनता है उतना ही इन एजेंटो को बैंक भुगतान करती है।

Loan agent का क्या काम होता है ?

Loan agent का काम होता है लोगो को लोन दिलाना। ये Loan agent जिस भी बैंक के Loan agent बने होते हैं। उस बैंक की पोलिसी के आधार पर जो लोग लोन लेने के पात्र होते हैं, ऐसे लोगो को खोजना होता है। यही लोग Loan agent के ग्राहक होते है। फिर Loan agent बैंक की पोलिसी व प्रोसेस को पूरा करते हैं और अपने ग्राहक को उस बैंक से लोन दिलाने में मद्द करते है।

लोन के अमाउंट के अनुसार Loan agent को जितना कमिशन देने का बैंक लिखित वादा करती है, वह उस Loan agent का दिया जाता है। 

Loan Agent का कमिशन कितना होता है ?

यदि पर्सनल लोन की बात करे तो एक Loan Agent को बैंक व एनबीएफसी कंपनियॉ 2%  से लेकर 3%तक कमिशन देती हैं।

इसके अलावा यदि हम प्रोपर्टी लोन की बात करे तो होम लोन व र्मोगेज लोन में 0.2 %  से लेकर 0.7 %तक के आस पास तक कमिशन देती हैं।

Loan Agent महीने का कितना कमा लेता है ?

यदि औसत की बात करें तो एक Loan Agent औसताना 30 से 40 हजार रुपये महीने का कमा लेते हैं। जो Loan Agent पूरी ईमानदारी और फोकस से काम करते हैं वे बड़े आराम से 1 से 1.5 लाख रुपये महीने के कमा लेते हैं। कई लोन एजेंट महीने का 2 लाख, 10 लाख व इससे भी अधिक कमाते हैं।

आप भी एक Loan Agent बनकर महीने की अच्छी आमदानी कर सकते हैं।

Loan agent और लोन DSA में क्या अंतर है  

यदि हम एजेट की बात करें तो एजेट एक अकेला व्यक्ति होता है और DSA की बात करें तो DSA एक पूरी एजेंसी को कहते है। बोलचाल की भाषा में कई लोग Loan agent को ही DSA बोल देते हैं। लेकिन बैंकिग भाषा में यह दोनो अलग है, Loan agent एक अकेला व्यक्ति होता है, जबकि लोन DSA एक पूरी कंपनी संस्था होती है।

DSA का फुल फॉर्म होता है (Direct Sales Agency) डारेक्ट सेल्स एजेंसी मतलब सेल्स की एक एजेंसी या संस्था जिसे हम एक कंपनी कहते हैं। इन DSA में जो सेल्स का काम करते हैं उन्हें हम DSE कहते हैं।

DSE का फुल फॉर्म होता है Direct sales executive। बस यही से Loan Agent को DSE, DSA आदि नामो से जाना जाता है।

Loan Agent व बैंक कर्मचारी में क्या अंतर होता हैं

  • एक बैंक कर्मचारी जो लोन सैल करता है वह बैंक का स्टाफ होता है, वहीं एक Loan Agent वह भी लोन सैल करता है किंतु वह बैंक का स्टाफ नहीं होता है।
  • एक बैंक कर्मचारी जो लोन सैल करता है, उसकी महीने की फिक्सड सैलरी होती है। वहीं एक Loan Agent की कोई फिक्सड सैलरी नहीं होती है, उसे केवल कमिशन मिलता है।
  • एक बैंक कर्मचारी को हर रोज समय पर बैंक पहुचना होता है और रिपोर्ट करना होता है। जबकि एक Loan Agent को यह सब नहीं करना पड़ता है। उसकी जब मर्जी जाये तब मार्केट में जाये और काम करे।
  • एक बैंक कर्मचारी अपनी मर्जी से छुटटी नहीं ले सकता है जबकि Loan Agent ऐसा कर सकता है।
  • एक Loan Agent एक साथ कई बैंको के लोन सैल कर सकता है। जबकि एक बैंक कर्मचारी सिर्फ उसी बैंक के अन्य प्रोडक्ट सैल कर सकता है जिसमें वह जॉब कर रहा है।

Loan Agent बनने के फायदे व नुकसान

Loan Agent बनने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आप बिना किसी निवेश के लोन सैल कर अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं। कई Loan Agent लोन सैल कर लाखो रुपये महीने का कमाते हैं।

आप बिना बैंक के स्टाप बने या बैंक में नौकरी किये बिना लोन सैल करने का काम कर सकते है।

एक Loan Agent के रूप में आप अपनी मर्जी के मालिक होते हैं, यदि आप किसी दिन काम करने नहीं गये, तो इसमें आपके उपर कोई दवाब नहीं रहता है।

एक Loan Agent के रूप में आप एक साथ कई बैंको के लोन सैल कर सकते है।

Loan Agent बनने का नुकसान

Loan Agent बनने का बस एक ही  नुकसान है कि आपको पैसा तभी मिलेगा जब सफलता पूर्वक आपके कस्टमर को लोन प्राप्त हो जाये।

यदि पूरे महीने में आप एक भी लोन पास नहीं करा पाये, तो आपको बैंक एक भी रुपये का कमिशन नहीं देगी।

आपने किसी कस्टमर पर मेहनत की, उसके दस्ताबेज पूरे कराये, इसके लिए आपको कई बार कस्टमर के घर व बैंक के चक्कर लगाने पड़े। परंतु यदि किसी कारण बस इस कस्टमर का लोन बैंक रिजेक्ट कर देती है, तो आपने जो भी इसके लिए भागदौड़ व मेहनत की है उसका आपको कुछ भी नहीं मिलने वाला है।

Loan Agent के रूप में बस आपका एक ही नुकसान है और वह है कि इसमें आपकी कोई सैलरी फिक्सड नहीं रहती है, यदि आप लोन पास नहीं करा पाते हो तो आपको कोई भी पैसा नहीं मिलेगा।

loan agent kaise bane loan dsa kaise le

Loan Agent कैसे बने

आप जान चुके हैं कि Loan Agent कौन होते हैं और इनका क्या काम होता है ? अब हम जानते हैं कि यदि आपको Loan Agent बनना है तो आप Loan Agent कैसे बन सकते है। Loan Agent बनने की क्या प्रोसेस है Loan agent बनने के लिए क्या एडुकेशन चाहिए व किन लोगो के लिए Loan Agent बनना फायदे में रहेगा।

आप बिना बैंक में जॉब करे तीन तरीके से Loan agent बनकर लोगो को लोन सैल कर सकते है।

पहला डारेक्ट loan DSA लेकर, दूसरा बैंक से व्यक्तिगत कॉड लेकर और तीसरा किसी loan DSA एजेंसी के पास Loan Agent बनकर आप लोन सैल करने का काम कर सकते हैं।

Loan DSA कैसे लें

डारेक्ट loan DSA एजेंसी लेकर आप लोन सैल करने का काम कर सकते हैं

पहला है कि आप एक लोन DSA जिसे हम लोन एजेंसी कहते हैं लेकर काम कर सकते है। लेकिन यह सबसे कठिन है बैंक इतनी आसानी से loan DSA नहीं देती है। लोन DSA कैसे लेना इसके बारे में जानने के लिए पोस्ट को आगे पढ़ते जायें।

यदि आपको loan DSA लेना है तो उससे पहले आपको अनुभव के लिए पहले Loan agent बनना होगा। जो काम आपको आता होगा वही काम तो आप अपनी टीम से करा पायेगें। यदि आपने कभी लोन सेक्टर में काम किया ही नहीं है। आपने कभी लोन सैल किया ही नहीं है। तो फिर आप कैसे एक loan DSA लेकर अपनी टीम से लोन सैल कराने का काम करा सकते हैं, जो आपने कभी किया ही नहीं है। आप लोगो से या अपनी टीम से वही काम करा सकते हैं जो आपने कभी किया हो।

यदि आपको भरोसा है कि आप एक लोन DSA सफलता पूर्वक चला लेगें। तो आप अपने शहर के या फिर यदि आप बहुत ही छोटे शहर में रहते हैं तो पास के बड़े शहर में आप जिस भी बैंक का लोन DSA लेना चाहते हैं, उस शहर की मुख्य शाखा के सेल्स मैनेजर जो DSA से काम लेता है। उससे मिले और उससे उस बैंक के लोन DSA चैनल बनने की प्रोसेस पता करें व उसकी फॉर्माल्टि के बारे में जाने।

आप जिस बैंक का लोन DSA लेना चाहते हैं, आप जिस लोकेशन में है उस लोकेशन मे उस बैंक का जो सेल्स मैनेजर होगा, वही आपको लोन DSA लेने में मद्द करेगा।

लोन DSA बनने की क्या प्रोसेस होती है क्या क्या फॉर्माल्टिी होती है

जब आप लोन DSA लेते हैं तो आपके पास ये सब फार्मालिटि होनी चाहिए।

आपके पास सबसे पहले एक ऑफिस होना चाहिए। जहॉ आपकी सेल्स व बेकेण्ड टीम बैठ सके। यदि कोई कस्टमर आपके ऑफिस में बिजिट करता है तो उससे आप या आपकी टीम बात कर सके।

यदि आफिस की बात की जाये तो शुरूआत में आप एक छोटे से ऑफिस से भी शुरूआत कर सकते हैं। चूॅकि आप बैंक से एजेंसी लेकर हो, जिस के माध्यम से आप अपनी पूरी टीम के साथ मिलकर लोन सैल करने वाले हैं, इसलिए आपको ऑफिस लेना पड़ेगा। यदि आप अकेले ही Loan Agent बनकर काम करना चाहते हैं, तो आप इसे बिना ऑफिस भी कर सकते है।

लोन DSA लेने के लिए आपकी शिक्षा कितनी होनी चाहिए।

आजकल अधिकतर बड़े प्राइवेट बैंक, सरकारी बैंक व एनबीएफसी DSA कॉड देने के लिए कम से कम ग्रेजुएट मांगती हैं। कई एनबीएफसी व बैंक आपको सिर्फ 12वी पास के पर भी लोन DSA दे देती हैं।

लोन DSA कॉड लेने के लिए आपके पास लोन सैलिंग का पुराना अनुभव होना आवश्यक है

लोन DSA कॉड देने से पहले बैंक इंटरव्यू लेती है और सह सुनिश्चित किया जाता है कि आप लोन सैल करने का काम खुद व अपनी टीम से करा पायेगें या नहीं। इंटरव्यू में यह भी सुनिश्चित किया जाता है कि आपने पहले कभी लोन सैलिंग का काम किया है या नहीं। आप लोन की पॉलिसी व लोन सैल करने में कितने सक्षम हो इसके बारे में भी बैंक पता करती है।

आप कुछ साल तक किसी बैंक या लोन DSA में लोन सैलिंग का काम किये हो, यह आपके अनुभव के लिए आवश्यक है।

आजकल कुछ बैंक DSA कॉड देने से पहले अच्छे सिबिल स्कोर होने की भी सर्त रखती है।

यह सब मैने आपको सिर्फ बैसिक चीजे बताई हैं जो लगभग हर बैंक DSA कॉड देने से पहले डिमांड करती है।

कौन सा बैंक या एनबीएफसी DSA कॉड देने के लिए किन सर्तो, दस्ताबेजो की मांग करता है। यह आपको उस बैक का सेल्स मैनेजर ही बता सकेग, इसलिए आप जिस भी लोकेशन में जिस भी बैंक का DSA कॉड लेना चाहते हैं, उस लोकेशन के उस बैंक के सेल्स मैनेजर से अवश्य संपर्क करें।

जल्दी या कम समय में व कम अनुभव के लोन DSA कॉड कैसे लें

यदि आप लोन सैलिंग के फील्ड में नये हैं, आपको इस फील्ड कम ही समय हुआ है तो आप किसी नई एनबीएफसी कंपनी के लोन DSA कॉड के लिए जाइये। ये आपको जल्दी लोन DSA कॉड दे सकती हैं। आप एसबीआई या एचडीएफसी बैंको के लोन DSA कॉड के लिए जायेगे तो इनकी शर्ते अधिक होती हैं, ये आपको इतनी आसानी से लोन DSA कॉड नहीं देगी। जबकि हीरो फिनकॉर्प, आदित्य बिरला आदि आपको एसबीआई व एचडीएफसी बैंको की तुलना में जल्दी व कम शर्तो पर लोन DSA कॉड दे देगी।

ये कंपनियॉ मार्केट में नई हैं, इसलिए ये चाहती हैं कि ज्यादा से ज्यादा लोग इनसे जुड़े और इनके लिए काम करें। ये कंपनियॉ आपको कम समय में, कम शर्तो में लोन DSA कॉड प्रदान कर देगी। आप इन छोटी छोटी कंपनियों के साथ शुरूआत करें और फिर आगे बढ़ते जायें और बड़ी बैंको के लोन DSA कॉड लेते जायें। 

इसलिए यदि आपने पहले कभी लोन का काम नहीं किया है। आप किसी बैंक में लोन सेक्टर में या फिर किसी loan DSA के साथ काम नहीं किये हैं, तो आपको यही बताया जाता है कि आप loan DSA न ले, पहले आप किसी बैंक में या तो लोन सेक्टर में लोन सैल करने की जॉब करें या फिर किसी अच्छे loan DSA के साथ Loan agent बनकर लोन सैल करने की जॉब या फिर कमिशन पर काम करें।

इसके बाद जब आपको अनुभव होने लगेगा तो आप फिर बैंकों से डारेक्ट जुड़कर Loan agent बने और अपने नाम पर कॉड ले और लोन सैल करने का काम करे।

Loan Agent बनने के लिए डारेक्ट बैंक से कॉड कैसे लें।

दूसरा आप डारेक्ट बैंक से Loan Agent बन जाये, इसके लिए भी आपके पास फाइनेंस व लोन दिलाने आदि का कुछ न कुछ अनुभव होना चाहिए।

आप पहले किसी लोन DSA या बैंक के कर्मचारी के रूप में लोन सैल करने का काम किये हो तो आप फिर अपने नाम से सीधे बैंक से Loan Agent का कॉड ले सकते हैं।

आप जिस भी बैंक के Loan Agent बनना चाहते हैं, आप उस बैंक की वेबसाइट पर जाये और फिर वहॉ पर आपका इसके बारे में जानकारी मिल जायेगी। आप वेबसाइट के हमारे साथ काम करें।

For example यदि आपको idfc first bank loan agent बनना है तो आप नीचे दी गई लिंक को फॉलो करें।

become first partner of idfc bank

इसके अलावा आप जिस भी शहर में जिस भी बैक के Loan Agent बनना चाहते है। उस शहर में उस बैंक की प्रमुख शाखा में जाकर वहॉ के सेल्स मैनेजर से मिले। वह आपको Loan Agent का कॉड दिला देगा। Loan Agent कॉड लेने के लिए क्या क्या फॉर्मालिटी होती है, सेल्स मैनेजर आपको सब बता देगा।

किसी लोन DSA में Loan Agent कैसे बने

यदि आप लोन सैल करने की फील्ड में एकदम नये हैं तो आप तीसरा तरिका अपनाये। किसी पुराने व अच्छे से लोन DSA के साथ डीएसई बनकर Loan Agent का काम कर सकते है।

लोन DSA में जो लोग काम करते हैं वे भी अधिकतर कमिशन पर ही काम करते है। इनमें से कुछ लोग जो लोन की फाइल आदि कंपलीट कराते हैं, उन्हे DSA वाले फिक्सड सैलरी पर भी रख लेते है। चॅूकि आपको लोन सैल करना है तो आपको अधिकतर DSA वाले कमिशन पर ही अपने साथ काम करने के लिए जोड़ेगें। अब आप जिस भी एजेंसी के साथ काम करते हो आप उसके माध्यम से Loan Agent बनते हैं और उसके माध्यम से ही काम करते हैं।

आपके काम का जो कमिशन बैंक देगी वह सीधे आपके पास नहीं आयेगा। आप जिस एजेंसी के साथ काम कर रहे हैं, उसके पास आपके काम का कमिशन आयेगा। अब DSA का मालिक अपना हिस्सा निकालकर बाकि का कमिशन आपको दे देगा।

शुरूआत में किसी लोन DSA के साथ लोन का काम करने का आपको यह लाभ है कि वह DSA आपको लोन सैल कराने में मद्द करेगा। वह आपको यह काम सीखायेगा, आपको लोन पॉलिसी, लोन कैसे सेल्स करते हैं, किस बैंक में कौन सी फाइल लगाना आदि। आपको ऑफिस आदि खुद का नहीं लेना होता है। आप जीरो इनवेस्टमेंट में लोन सैल करने का काम शुरू कर महीने का लाखो कमा सकते है। 

यदि आपको लगता है कि किसी DSA के साथ आप काम करोगे तो आपको कम कमिशन मिलेगा। बैंक से आपके काम का जो कमिशन बनेगा उसमें से DSA मालिक अपना हिस्सा निकालकर आपको कम कमिशन देगा। 

ऐसा ही होता है लेकिन इसमे आपको घाटा नहीं है इसमे आपका फायदा ही है।

बैंक जो कमिशन देता है वह स्लेब के आधार पर देता है जो ज्यादा बिजनेस देते है। उनके कमिशन की दर अधिक होती है और जो कम देते हैं उनकी कमिशन  दर कम होती है।

जब आप काम सीख जाये तो आप डारेक्ट बैक से अपने नाम पर कॉड ले सकते है। यदि आपको लगता है कि आप टीम भी मैनेज कर सकते हैं और आप बड़े लेवल पर लोगो को साथ लेकर लोन का काम कर सकते हैं, तो आप लोन का DSA भी ले सकते हैं।

किन लोगो को Loan agent बनना चाहिए कौन लोग Loan agent बनकर लाखो रुपये कमा सकते हैं।

वे लोग जो पहले से ही कुछ न कुछ बैंकिंग प्रोडक्ट सैल करते हैं, उन लोगो को लोन सैल करना बहुत ही आसानी होगी और उनको बैंकिंग की जानकारी भी होती है।

इंश्योरेंस एजेंट Loan Agent बन सकते हैं।

यदि आप एक इंश्योरेंस एजेंट है तो आप साथ मे Loan Agent बन सकते हैं, इससे भी आप अच्छी आमदानी प्राप्त कर सकते हैं।

ऑनलाइन की दुकान व्योसक सेंटर

यदि आपकी ऑनलाइन की दुकान है या फिर आप व्योसक सेंटर चलाते हैं। जहॉ आपके पास अक्सर लोग सेविंग अकाउंट खुलाने या फिर अन्य किसी बैंक से संबंधित काम के बारे में पूछते हैं। कई बार आपसे लोन कराने आदि के बारे में पूछते हैं, तब आप अपने इस काम के साथ एक Loan Agent बनकर अपनी आमदानी बढ़ा सकते हैं।

फ्रीलांस सेल्समैन

यदि आप फ्रीलांस सेल्समैन है आप कोई ऐसा प्रोडक्ट सैल करत हैं, जिन्हे अक्सर वही लोग खरीदते हैं, जिनकी उम्र 20 से अधिक है, तो आप अपने काम के साथ Loan Agent बनकर लोन सैल कर अतिरिक्त आमदानी कर सकते हैं।

पार्ट टाइम काम के लिए क्या Loan Agent बनना सही रहेगा

आप किसी कंपनी में जॉब करते हैं और आप उसके साथ अतिरिक्त आमदानी चाहते हैं। आपका अच्छा नेटवर्क है तब आप Loan Agent बन कर अपने लिए अतिरिक्त आमदानी कर सकते हैं। 

वे सभी लोग जिनके पास नौकरी करने या फिर खुद की दुकान आदि करने वालो का अच्छा नेटवर्क है, वे सभी लोग जो सेल्स में है और साथ में अन्य प्रोडक्ट सैल कर अपनी आमदानी बढ़ाना चाहते हैं। वे लोग जिनके पास फुल टाइम काम करने का समय नहीं है, वे सभी लोग एक Loan Agent बन पैसा कमा सकते हैं।

बैंक Loan agent क्यों बनाती है बैंको को loan DSA से क्या फायदा होता है

लोन देने से बैंको व्याज के रूप में जो पैसा मिलता है उससे बैंको को सबसे अधिक लाभ होता है। बैंक चाहती है कि उन लोगो को लोन दिया जाये जो समय पर लोन की किस्त भरे। इसलिए हर एक बैंक लोन देने के लिए अपनी एक पॉलिसी बनाती है। उसे बेचने के लिए बैंक अपना लोन स्टाफ व Loan Agent व लोन DSA बनाती है।

 लोग लोन कराने के लिए Loan agent के पास क्यों आयेगे वे सीधे बैंक भी तो जा सकते है।

हर बैंक व एनबीएफसी कंपनियों की लोन देनी की अपनी अलग अगल एलिजिब्लिटी पात्रता पॉलिसी होती है। हो सकता है कि किसी व्यक्ति को एचडीएफसी बैंक लोन देने से मना कर दे, और उसी व्यक्ति को एक्सिस बैंक, हीरो फिनकॉर्प या अन्य कोई लोन देने के लिए प्रदान कर दे।

मान लेते हैं कि राहुल जो कि एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करता है, उसे 3 लाख का पर्सनल लोन चाहिए। वह सुबह 9 से 6 तक की जॉब में व्यस्त रहता है। अब ऐसे में उसके पास समय ही नहीं है कि वह लोन के लिए बार बार बैंक जा सके। वह एक दो बड़े बैंको में गया लेकिन उन्होने उसे लोन देने के लिए मना कर दिया है।

राहुल को लोन की जरूरत है लेकिन उसे यह नहीं पता कि उसे कौन सा बैंक या एनबीएफसी कंपनी दे सकती है। इसके अलावा उसके पास समय भी नहीं है कि वह हर रोज किसी न किसी बैंक या एनबीएफसी के चक्कर लगाता रहे।

ऐसी स्थिति में एक Loan Agent ही राहुल की मद्द कर सकता है, क्योंकि एक अनुभवी Loan agent को पता होता है कि किस प्रोफाइल व इनकम के अनुसार कौन सा बैंक या एनबीएफसी कंपनी उसे लोन दे सकती है।

Loan Agent को लोन कराने के लिए बैंक कमिशन देती है इसलिए वह राहुल के घर या ऑफिस से उसके लोन के लिए लगने वाले दस्ताबेज उससे लेकर, उसे पूर्ण करके जिस बैंक से लोन कराना है वहॉ लगा सकता है।

राहुल की तरह ऐसे कई लोग होते हैं, जिन्हे लोन तो चाहिए लेकिन यही है कि न तो उन्हे यह पता कि कौन सा बैंक उनका लोन कर देगा और न ही उनके पास बैंक जाने का समय है। ऐसी स्थिति में इन बहुत सारे लोगो को Loan Agent की जरूरत पड़ती है।

यदि आप मेहनती है और आप सेल्स कर सकते हैं, तो Loan Agent बनकर लोन सैल करना एक अच्छा कॅरियर है।

Loan agent महीने के लाखो कैसे कमाये बेस्ट सुझाव हिंदी में

1. ठीक ढंग से प्रोस्पेक्टिंग करें, सही स्थान व सही लोगो पर काम करें

आप हर किसी को लोन नहीं दे सकते हैं, भले ही लोग लोन लेना चाहते हैं किंतु यदि वे बैंक की पॉलिसी के अनुसार लोन लेने के पात्र नहीं है, तो आप उनको लोन नहीं दे सकते हैं।

इसलिए आप उन्हे लोगो को अपने लोन के लिए प्रोस्पेक्ट बनाये जो यदि लोन लेना चाहते हैं और बैंक की पॉलिसी के अनुसार उसके लिए पात्र हों।

प्रोस्पेक्टिंग क्या है और कैसे करें के बारे में डिटेल से पढ़ने के लिए आप हमारी पोस्ट सेल्स प्रोस्पेक्टिंग क्या है और कैसे करें के बारे में पढ़े।

2. अपने कस्टमर से रिलेशन बनाये और उनसे जुड़े रहे

आप किसी व्यक्ति से मिले बात चीत हुई, उसकी इनकम भी अच्छी है और वह बैंक की हर एक पोलिसी के अनुसार लोन लेने के लिए पात्र हैं, किंतु उसे अभी लोन की जरूरत नहीं है। जब उसे जरूरत नहीं है तो आप फिर उसे लोन सैल नहीं कर सकते हैं।

हो सकता है कि आपके इस कस्टमर को 6 महीने बाद या फिर एक साल बाद लोन आवश्यकता पड़ जाये।

यदि आप उसके संपर्क में रहे, तब आप अवश्य ही इस व्यक्ति को लोन सैल कर पायेगें।

आपके वे सारे कस्टमर जो लोन के लिए पात्र किंतु उन्हें अभी नहीं चाहिए। आप उनसे लगातार संपर्क में बने रहे। सोशल मिडिया पर उन्हे फॉलो करें, व्हाट्सअप आदि पर उनसे जुड़े।

3. लोन के साथ अन्य फाइनेंस से संबधित प्रोडक्ट भी अवश्स सैल करें।

आप कई सारे ऐसे लोगो को जानते होगें जो आपके अच्छे संपर्क में है लेकिन आप उनको लोन नहीं सैल कर पा रहे होगे। क्योंकि उनमे से कुछ लोग जो लोन यदि मिले तो लेगे किंतु वे लोन लेने के लिए पात्र नहीं है। किसी की इनकम कम है, किसी की कैश में इनकम है, किसी का सिबिल खराब है तो किसी का पहले से ही लोन चल रहा है।

इनके अलावा अन्य लोगो को लोन की जरूरत नहीं है। आप बहुत सारे ऐसे लोगो को जानते हो जिनको लोन की आवश्यकता नहीं है या फिर वे लोन लेने के लिए बैंक की पॉलिसी के अनुसार पात्र नहीं है।

इसका मतलब यह हुआ कि आप अपने बहुत सारे जानने वाले लोगो को लोन सैल नहीं कर सकते हैं।

  यदि आपके पास लोन के अलावा अन्य फाइनेंस प्रोडक्ट होगे जैसे कि क्रेडिट कार्ड , इंश्योंरेंस, म्यूच्यूल फंड, सेविंग व डिजिटल अकाउंट, आदि हैं। तो आप अपने जान पहचान वालो को जिनको आप लोन नहीं सैल कर सकते हैं उन्हे इनमें से कोई एक प्रोडक्ट सैल कर सकते हैं।

आपको कई कस्टमर ऐसे भी मिलेगे, जो लोन लेने चा रहे थे लेकिन अपने काम में व्यस्थता या अन्य किसी कारणो से वे लोन नहीं ले पा रहे थे। आप उनसे एक Loan Agent के रूप मिले और आपने उनका लोन करा दिया। ऐसे लोग आपसे अवश्य ही आसानी से अन्य फाइनेंस प्रोडक्ट खरीद लेगे। आप इन्हे कार इंश्योरेंस, वाइक इंश्योरेंस, हेल्थ इंश्योरेंस, क्रेडिट कार्ड, म्यूचल फंड आदि सैल कर सकते है।

आपको बस कहने की जरूरत है, ये लोग आपसे अवश्य ही लोन के बाद अन्य प्रोडक्ट खरीद लेगे, ऐसा करके आप एक ही ग्राहक से अपनी आमदानी बढ़ा लेगें।

4. लोन होने के बाद कस्टमर के संपर्क में रहे और उसकी एक भी किस्त बाउंस न होने दें।

अक्सर Loan Agent लोन कराने के कुछ महीने बाद कस्टमर को भूल जाते हैं। उनके पास कस्टमर का नंबर तो होता है लेकिन उनके वे प्रोपर संपर्क में नहीं रहते हैं। आप ऐसा न करें, लोन कराने के कई महीनो व सालो तक आप उनके प्रोपर संपर्क में रहें।

उनसे लगातार बात करते रहे, यह भी सुनिश्चित कर लें कि आपके कस्टमर की एक भी किस्त बाउंस न होने दें ताकि आपके कस्टमर का सिबिल स्कोर अच्छा बना रहे। यदि आप ऐसा करते हैं तो भविष्य में आप उसे दोबारा से लोन दे सकते हैं।

ऐसा करके आप एक ही कस्टमर से एक समय अवधि के बाद बार बार लोन व अन्य प्रोडक्ट सैल कर पैसा कमा सकते हैं।

5. एक सफल Loan Agent बनने के लिए कस्टमर से अतिरिक्त चार्ज न लें

कई Loan Agent कस्टमर का लोन कराने से पहले उनसे सर्विस प्रदान करने के नाम पर पहले ही दो पांच हजार रुपये ले लेते हैं और उन्हे आसवासन दिलाते हैं कि उनका लोन करा ही देगे। कई मामलो मे वे लोन नहीं करा पाते हैं और कस्टमर से सर्विस चार्ज के रुप में लिया यह पैसा उसे वापिस भी नहीं करते हैं।

ऐसा करके वे मार्केट में अपनी छवि खराब करते हैं जिससे उनके पास कई कस्टमर जो लोन कराने के लिए आ सकते थे किंतु आपके बारे में मार्केट में मिली जानकारी के कारण वे नहीं आते हैं।

आप ऐसा बिल्कुल भी न करें, किसी भी व्यक्ति से लोन कराने से पहले पैसा न लें।

कई लोग लोन कराने पर 2 से 5 प्रतिशत तक कस्टमर से चार्ज करते है, सर्विस चार्ज के रूप में।

बैंक आपको खुद ही आपके काम का कमिशन देता है इसलिए आपको अतिरिक्त चार्ज करने की आवश्यकता नहीं है।

यदि आप बैंक के कमिशन के अतिरिक्त भी पैसा कमाना चाहते हैं, तो आप कस्टमर से अतिरिक्त चार्ज करने के स्थान पर कस्टमर को कोई अन्य प्रोडक्ट सैल कर दें, जैसे कि इंश्योरेंस, क्रेडिट कार्ड आदि।

इससे कस्टमर भी आपका हमेशा के लिए आपका कस्टमर बन जायेगा। फिर आप उसे हेल्थ इंश्योरेंस, कार इंश्योरेंस, उसके घर में जितनी वाइक है उन सब का इंश्योरेंस, उसके रिस्तेदार व दोस्तो का लोन आदि आप कर सकते हैं।

यदि आप लोन कराने का चार्ज लेते हैं, तब आपका यह कस्टमर आपको रिफरेंस नहीं देगा।

ऐसा करके आप एक ही कस्टमर से बार बार पैसा कमा सकते हैं। वहीं यदि आप उससे चार्ज ले लेते हैं तो आप कस्टमर को खो देते हैं। कस्टमर से सर्विस चार्ज आदि के रूप में कोई अतिरिक्त पैसा न लें, उससे हमेशा के लिए अपना परमानेंट ग्राहक बना लें और बार बार उससे पैसा कमायें।

6. अपने कस्टमर की फाइल किसी भी बैंक में लोगिन करने से पहले उसे अच्छे से पढ़े

कोई भी व्यक्ति डारेक्ट बैंक में जाने के स्थान पर एक Loan Agent से लोन इसलिए कराना पसंद करता है क्योंकि उसके पास बैक आदि जाने का समय नहीं होता है और दूसरा उसे यह भी जानकारी नहीं होती है कि कौन सा बैंक उसका लोन कर देगा।

जब आपके पास किसी भी कस्टमर की लोन के लिए फाइल आये, तो सबसे पहले आप उसे ध्यान से पढ़े और फिर यह रिसर्च करें कि इस फाइल को कौन सा बैंक एक ही पार में लोन कर देगा। तब आप उसे बैंक में इस फाइल को लगायें।

यदि आप फाइल को ध्यान से नहीं पढ़ेगें और आपने उसे एक बैंक में लगाई, उसने रिजेक्ट कर दिया, इसके बाद आप उसे दूसरे बैंक में लगायेंगे, यदि उसने भी रिजेक्ट कर दिया तो आप फिर तीसरे बैंक में लगायेंगे।

यदि आप ऐसा करते हैं तो आप अपना व अपने कस्टमर का समय नष्ट करते हैं। कई बार इस प्रोसेस में आपका कस्टमर मना कर देता है ज्यदा समय लगने के कारण। आप इससे प्रोसेस से बचे, आपके पास कोई भी लोन की फाइल आये उसे अच्छे पढ़े और फिर उसे सही बैंक में लोगिन करे जो कस्टमर को एक ही बार में लोन दे दे।

यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी, तो ब्लॉग को सब्सक्राइब अवश्य करे व अपने जरूरतमंद दोस्तो के साथ इसे शेयर करे।

एक Loan Agent का कमिशन कितना होता है

Loan Agent को पर्सनल लोन पर 2 % से 3 % के आसपास और प्रोपर्टी लोन पर 0.2 से लेकर 0.7 % तक कमिश्न मिल जाता है।

Loan Agent बनने के लिए किस से मिलना पड़ता है

आप जिस भी लोकेशन में जिस भी बैंक के Loan Agent बनना चाहते हैं, आपको उस लोकेशन के उस बैंक के सेल्स मैनेजर से मिलना होगा।

एक Loan Agent महीने का कितना कमा लेता है

एक Loan Agent औसताना महीने का 30 से 40 हजार व और अधिक मेहनत करने पर एक लाख से भी अधिक कमा लेता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.